भाषा किसे कहते हैं? – bhasha kise kahate hain 2022 (Language)

bhasha kise kahate hain {Bhasha ki Paribhasha} – दोस्तों वैसे हमारी बातचीत की  एक भाषा होती है लेकिन कई सारे लोगों को भाषा के प्रकार कितने होते हैं व्याकरण में भाषा को क्या कहते हैं भाषा किसे कहते हैं कई सारे सवालों के जवाब मालूम नहीं दोगे तो हम आपको इस आर्टिकल में हिंदी से अब के बारे में भाषा किसे कहते हैं भाषा के कितने प्रकार होते हैं कितने प्रकार से भाषा बनती हैं इसके बारे में पूरी जानकारी मिलेगी तो आप इस आर्टिकल को पूरा पढ़े हमें हिंदी व्याकरण में भाषा के बारे में बहुत सारा ज्ञान प्रोवाइड कराया जाता है

व्याकरण किसे कहते हैं?

किसी भाषा को शुद्ध शब्दों में बोलना और लिखना और व्याकरण कहलाता है जिसके बारे में आपने कई किताबों में हिंदी व्याकरण के बारे में जाना ही होगा जिसे समझने के लिए हमें इस आर्टिकल को पूरा पढ़ना होगा साथ में शुद्ध बोलना या लिखना हिंदी भाषा में शुद्ध सर में लिखना या बोलना हिंदी शास्त्रों के अनुसार हिंदी व्याकरण  कहते हैं

 जिसमें किसी भी हिंदी शब्द का सही रूप से उच्चारण करना साथ में उसे सही जगह पर प्रयोग में लाना हिंदी भाषा हिंदी व्याकरण कहलाती है bhasha kise kahate hain हिंदी में पूरी जानकारी मिलेगी

भाषा किसे कहते हैं bhasha kise kahate hain

 भाषा बहुत साधन है जिसके द्वारा मनुष्य या हम लोग आपस में एक दूसरे से बातचीत करते कर सकते हैं और वही मनुष्य की ही नहीं पक्षी पशु पक्षी हर एक प्रकार के जानवर जो धरती पर मौजूद हैं एक दूसरे से कम्युनिकेट करने के लिए किसी ने किसी भाषा का प्रयोग जरूर करते हैं भाषा कितने प्रकार की होती है मनुष्य के आधार पर यह जान लेते हैं

 भाषा बहुत सारी ध्वनियों का मेल होता है जिसमें कई सारी दुनिया मिलकर एक वाक्य का निर्माण करती हैं जिसे हम  भाषा कहते हैं हिंदी अंग्रेजी मराठी गुजराती 

भाषा के गुण

  • यह प्रभु –  मुंह से उच्चरित होता है 
  • इसमें सार्थक ध्वनि उत्पन्न होती है
  • प्रत्येक भाषा में एक ध्वनि उत्पन्न होती है
  • कई सारे शब्द व्यवस्थित रूप से जुड़कर एक वाक्य का निर्माण करते हैं 
  • ऐसे बात की है दूसरे लोगों को बातचीत पहुंचाने का कार्य करते हैं 

भाषा कितने प्रकार के होते हैं? (bhasha kise kahate hain)

मुख्य रूप से भाषा 3 प्रकार के होते हैं लेकिन सांकेतिक भाषा सर्वग्राह्य भाषा ना होने के कारण, इसे व्याकरण में अध्ययन नहीं किया जाता है।

  1. मौखिक भाषा (Oral Language)
  2. लिखित भाषा (Written Language)
  3. सांकेतिक भाषा (Symbolic / Indicative Language)

मौखिक bhasha kise kahate hain

भाषा का वह रूप जिसमें व्यक्ति अपने विचारो को बोलकर प्रकट करता है, और दूसरा व्यक्ति सुनकर उसे समझता है। मौखिक भाषा कहलाती है। इसमें वक्ता बोलकर अपनी बात कहता है व श्रोता सुनकर उसकी बात समझता है। जैसे- अरिजीत गीत गा रहा है। नेता जी भाषण दे रहे हैं।

लिखित bhasha kise kahate hain

भाषा के जिस माध्यम से हम अपने विचारो को लिख कर प्रकट करते हैं तथा दुसरे इन्हें पढकर समझते हैं, उसे लिखित भाषा कहते हैं। लिखित भाषा समझने के लिए पढ़ा-लिखा होना आवश्यक है। इस भाषा का प्रयोग सदैव पत्र लिखने तथा पढाई-लिखाई में काम आता है। जैसे- सीता पत्र लिख रही है। मोहन अपना गृह कार्य कर रहा है।

सांकेतिक bhasha kise kahate hain

भाषा के जिस माध्यम से हम अपने विचारो को इशारो (संकेतो) में दुसरे वक्ता को समझा सकते हैं। उसे सांकेतिक भाषा कहा जाता है। इस भाषा का प्रयोग वे लोग करते है जो बोल या सुन नहीं सकते। ट्रैफिक नियमों का पालन करना भी सांकेतिक भाषा का रूप है। सांकेतिक भाषा सर्वग्राह्य भाषा नहीं है इसलिए व्याकरण में इसका अध्ययन नहीं किया जाता।

Read More – English Padhna Kaise Sikhe

भाषा किसे कहते हैं

FAQ –

भाषा किसे कहते हैं इसके कितने प्रकार होते हैं?

भाषा  वह माध्यम जिसके बच्चे हम एक दूसरे मानव  से आसानी  से  बातचीत की जा सकती है उसे भाषा कहते  है   
तीन प्रकार की भाषा होती है

भाषा की परिभाषा क्या होती है हिंदी में?

भाषा वह साधन है जिसकी मदद से मनुष्य अपने मन के विचारों को एक दूसरे व्यक्ति के साथ में प्रकट कर सकता है एक दूसरे के भावों को साझा करने की प्रक्रिया को भाषा कहते है

हिंदी का जन्म कब हुआ?

एक हजार वर्ष पुराना माना गया है। 

भाषा के कितने अंग हैं?

भाषा के पाँच अंग होते हैं, जो कि इस प्रकार हैं… वर्ण : वर्ण से तात्पर्य उस मूल ध्वनि से होता है, जिस को खंड-खंड ना किया जा सकता हो। वर्ण भाषा की सबसे सूक्ष्म इकाई होती है। शब्द : वर्णों के सार्थक समूह को शब्द कहते हैं

निष्कर्ष

मुझे आशा है कि आपको यह जानकारी अच्छी लगे होगे अगर आपको इस जानकारी अच्छी लगी है और इस में कुछ कमी रह गई है तो आप हमें कमेंट करके बता सकते हैं  इसी प्रकार की इनफॉर्मेटिव जानकारी हमारे इस वेबसाइट पर समय-समय पर शेयर की जाती है

मैं इस Blog का Founder हूँ। हमारा इस Blog को बनाने का मुख्य उद्देश्य हिंदी भाषी लोगों को इंटरनेट से जुड़ी जानकारी प्रदान करवाना है। यहाँ आपको srkari yojna , entertainment ,तकनिकी, कंप्यूटर और मेक मनी से जुड़ी हर तरह की जानकारी अपनी मातृ भाषा ( hindi )में मिलने वाली है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.